Ticker

8/recent/ticker-posts

Delhi: कहां से आए 6208 करोड़ रुपये?

 

                          [IMAGE IS USED FOR REPRESENTATIVE PURPOSE ONLY] 


दिल्ली एयरपोर्ट मेट्रो एक्सप्रेस प्राइवेट लिमिटेड (डीएएमईपीएल) ने मेट्रो पर अपने बैंक खातों की पूरी जानकारी नहीं देने का आरोप लगाते हुए मामले की कार्रवाई की मांग की है। (डीएएमईपीएल) ने आरोप लगाया है कि, डीएमआरसी जान पूछकर 4600 करोड़ के मध्यस्थता अवार्ड को लागू करने में देरी करने के लिए बैंक खातों की जानकारी नहीं दे रही है।


पूरी जानकारी ना होने के कारण दिल्ली एयरपोर्ट मेट्रो एक्सप्रेस प्राइवेट लिमिटेड ने (डीएमआरसी) के खिलाफ़ कोर्ट में याचिका पेश की है। वही डीएमआरसी ने अपनी सफ़ाई पेश करते हुए कहा है कि, 1642 करोड़ रुपए उसकी आए हैं।


Also read

COVID-19 update: अमेरिका में कोरोना का कहर, एक दिन में मिले 11 लाख मरीज, बना विश्व रिकॉर्ड


जबकि 514 करोड़ रुपए मेट्रो के कर्मचारियों का वेतन और पेंशन है। पूरा मामला पेश करते हुए दिल्ली मेट्रो ने यह भी कहा है कि, 114 करोड़ रुपए स्मार्ट कार्ड का सिक्योरिटी डिपॉजिट है और बचे हुए खाते की जानकारी वह पेश कर देगी।  


डीएमआरसी ने जानकारी रिलायंस इंफ्रा की सहायक कंपनी की ओर से दाखिल अवमानना याचिका पर दिया है। इस मामले की पूरी जांच होगी और अगली सुनवाई मंगलवार को उच्च न्यायालय में की जाएगी।

Also read

Coronavirus news: कपूर खानदान में कोरोना की दहशत

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ