Ticker

8/recent/ticker-posts

सिद्धू मूसेवाला को दी गई मुखाग्नि, नम आंखों से हुई विदाई



नई दिल्ली: मशहूर पंजाबी सिंगर और कांग्रेस नेता सिद्धू मूसेवाला का अंतिम संस्कार आज उनके पैतृक गांव में किया गया।


सिद्धू मूसेवाला की अंतिम यात्रा उनके पसंदीदा 5911 टैक्टर पर निकाली गई. उन्होंने अपने कई गानों में इसी ट्रैक्टर का जिक्र किया है. इसमें सुधार करवाकर इसे घर में रखा गया है.


सिद्धू मूसेवाला का अंतिम संस्कार श्मशान घाट में नहीं किया गया. मूसेवाला के परिजनों की इच्छानुसार उनका अंतिम संस्कार उनके घर के पास ही एक खाली खेत में किया गया.






इससे पहले सिद्धू मूसेवाला के अंतिम संस्कार में उनके गांव मूसा में भारी भीड़ जुटी. अपने पसंदीदा गायक सिद्धू मूसेवाला को अंतिम विदाई देने के लिए गांव मूसा में हजारों लोग उमड़ पड़े। हर किसी की आंख नम थी। गांव के हर घर, हर सड़क, हर गाड़ी और पेड़ पर लोग दिख रहे थे। 


मूसेवाला की अंतिम यात्रा के दौरान उनके पिता बलकौर सिंह फूट फूट कर रोए। लोगों को उन्हें ढांढस बंधाना भी मुश्किल हो गया था। अंतिम संस्कार से पहले उनके पिता बलकौर सिंह ने सिद्धू मूसेवाला की पगड़ी बांधी।  


जानकारी के अनुसार, सिद्धू मूसेवाला का आखिरी गाना 'द लास्ट राइड' गांव मूसा में बजाया गया। 

आपको बता दें कि 29 मई को सिद्धू मूसेवाला की उनके घर के पास गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. सिंगर की इस तरह की निर्मम हत्या देखकर हर किसी की रूह कांप गई थी। 


6 महीने बाद होने वाली थी शादी


सिद्धू मूसेवाला की 6 महीने में बाद शादी होने वाली थी. बताया जा रहा है कि अक्टूबर में सिद्धू की शादी तय थी. जिस लड़की से उनकी शादी होनी थी, उनका भी रो रोकर बुरा हाल है. बीते रोज़ भी उनकी होने वाली पत्नी अपने परिवार के साथ सिद्धू मूसेवाला के घर पहुंची थीं.


आपको बता दें इस मामले में अभी तक पुलिस ने मूसेवाला की हत्या में शामिल होने के संदेह में पुलिस ने देहरादून से 6 लोगों को हिरासत में लिया है. गोल्डी बरार ने सिद्धू मूसेवाला की हत्या की जिम्मेदारी ली है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ