Ticker

6/recent/ticker-posts

थीमा आइडो हेल्थकेयर ने इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के साथ सहकारिता करके एक डिजिटल कंसेंट प्लेटफॉर्म किया लॉन्च


 

पेशेंट कंसेंट प्रोसेस में मरीज सहमति प्रक्रिया में आती दुविधाओं को मिटाने के लिए थीमा आइडो हेल्थकेयर और इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने की सहकारिता।


नई दिल्ली: थीमा आइडो हेल्थकेयर और इंडियन मेडिकल एसोसिएशन डिजिटल फ़ॉर्मेट में भारत में मरीज सहमति प्रक्रिया में आ रही दुविधाओं को मिटाने और मरीज तथा डॉक्टर के बीच आपसी सहमति की जागरूकता में मौजूदा अंतर को मिटने के लिए एक साझेदारी की है जिसका उद्देश्य एक पेपर फ़ॉर्मेट के अलावा एक डिजिटल फ़ॉर्मेट में पेशेंट कंसेंट (मरीज सहमति) टूल ईजाद करना है। यह टूल आज के समय की आवश्यकता है और साथ ही आने वाली समय में भी इस टूल की जरुरत बढ़ने वाली है।


 थीमा और इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की तरफ से यह एक ऐसा कदम उठाया गया है जिसके कारण मरीज़ों को एक विस्तृत एवं आसान जानकारी प्रदान करने की जा सकती है| इसके साथ ही इस आसान जानकारी के कारण अस्पतालों के खिलाफ बढ़ते मुक़दमे को भी रोका जा सकता है|  कंसेंट पोसेस डॉक्टरों के लिए जीवन को आसान बनाने के लिए और  डॉक्टर-रोगी संबंधों को बेहतर बनाने साथ ही रोगी की संतुष्टि बढ़ाने में स्वास्थ्य पेशेवरों की सहायता के लिए उत्पादों की एक श्रृंखला प्रदान करने में सहायता करता है|  

 

26 अगस्त 2021 को थीमा आइडो हेल्थकेयर और आईएमए ने इन्फोर्मड कंसेंट एन्ड क्लीनिकल गवर्नेंस (सूचित सहमति और नैदानिक शासन) के महत्वपूर्ण क्षेत्रों में उत्कृष्टता प्राप्त करने के लिए भारत में डिजिटल कंसेंट डॉक्युमेंट को लांच करने के लिए आपसी समझौते पर हस्ताक्षर किए। इस समझौते पर आईएमए-2021 के तत्कालीन राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. जे.ए. जयलाला ने हस्ताक्षर किया हैं।


आईएमए के तत्कालीन पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. जे.ए. जयलाला ने इस अनुबंध पर अपनी राय रखते हुए कहा , "आईएमए ने भारत में डिजिटल फॉर्मेट में कंसेंट डॉक्युमेंट  (सहमति दस्तावेज) प्रदान करने के लिए थीमा आइडो हेल्थकेयर के साथ साझेदारी की है। इन सहमति सूचना दस्तावेजों ने पूरी सहमति प्रक्रिया को और ज्यादा मजबूत बना दिया है। अस्पताल को एक अच्छी, सूचनात्मक और स्पष्ट सूचित सहमति प्रक्रिया का उपयोग करना चाहिए क्योंकि इससे आगे चलकर कोई कानूनी केस या विवाद होने का ख़तरा कम हो जाता है। हम थीमा आइडो हेल्थकेयर टीम की उल्लेखनीय क्षमता की भी सराहना करना चाहते हैं क्योंकि वे भारत में कंसेंट प्लेटफॉर्म  के बारे में सबसे बेहतर और अच्छी जानकारी रखते हैं।"


 थीमा आइडो हेल्थकेयर के कॉर्पोरेट सेल्स और मेडिकल कम्युनिकेशन के सीनियर डायरेक्टर डॉ नीतेंद्र सिसौदिया ने कहा , "थीमा आइडो हेल्थकेयर, इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के साथ व्यापक मेडिको-लीगल कंप्लेंट कंटेंट और डिजिटल कंसेंट सोल्यूशन प्रदान करने के लिए सहकारिता करके खुश और सम्मानित महसूस कर रहा है। इस साझेदारी से भारत में इन्फोर्मड पेशेंट कंसेंट को कुशलतापूर्वक और प्रभावी ढंग से अपनाने और रिकॉर्ड करने में हेल्थ प्रोफेशनल को मदद मिलेगी। थीमा आइडो कंसेंट टूल (सहमति उपकरण) को डॉक्टरों के लिए मरीज के अनुभव को बेहतर करने, क्लीनिकल वर्कफ़्लो में सुधार करने, संगठनात्मक और क्लीनिकल  (नैदानिक) प्रतिष्ठा की रक्षा करने और संयुक्त निर्णय लेने के लिए विकसित किया गया है।"


 कंसेंट डॉक्युमेंट (सहमति दस्तावेजों) की समीक्षा और अनुमोदन (एप्रूवल) आईएमए के पैनल सदस्यों- डॉ. जे. ए. जयलाला, डॉ. टी.एन. रविशंकर, डॉ पवन पाटिल, डॉ दिनेश ठाकरे, डॉ के नरसिम्हा राव, और डॉ बी चेरन द्वारा किया गया है। वर्तमान परिक्वश्य में सहमति दस्तावेज तीन क्षेत्रीय भाषाओं- अंग्रेजी, हिंदी और मराठी में उपलब्ध होंगे। जैसे-जैसे हम जोनों को बढ़ाते जाएंगे, हम मांग और आवश्यकता के अनुसार स्थानीय/क्षेत्रीय भाषाओं को इसमें जोड़ते जाएंगे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ