Ticker

6/recent/ticker-posts

आजादी के अमृत महोत्सव पर दिल्ली में नैशनल मीडिया क्लब के मैंगो महोत्सव में देखने को मिला देश का मिनी पार्लियामेंट


नई दिल्ली: नेशनल मीडिया क्लब (एनएमसी) ने देश के सबसे बड़े मैंगो फेस्टिवल का आयोजन किया। दिल्ली स्थित वेस्टर्न कोर्ट एनेक्सी में आयोजित इस कार्यक्रम में आमों की तीन सौ से अधिक प्रजातियों को प्रदर्शित किया गया। वहीं आयोजन में 14 केंद्रीय मंत्री व 150 सांसदों ने उपस्थिति दर्ज कराई। नेशनल मीडिया क्लब के संस्थापक रमेश अवस्थी और राष्ट्रीय अध्यक्ष सचिन अवस्थी के नेतृत्व में मैंगो फेस्टिवल का यह 15वां आयोजन था। इस बार का आयोजन संस्कृति मंत्रालय के आजादी का अमृत महोत्सव स्मरणोत्सव के तहत किया गया था। 






आम को फलों का राजा कहा जाता है और आम के मौसम की प्रतीक्षा लोगों को साल भर रहती है। देश के ग्रामीण अंचल की साझी पहचान आम के बाग ही हैं। इसी साझी पहचान, स्वाद और विविधता का महोत्सव बुधवार को मैंगो फेस्टिवल के रूप में मनाया गया। आयोजन में दशहरी से लेकर अल्फांसो, नीलम, केसर, कैसिंग्टन, चौसा, सफेदा, देसी गोला, इलाहाबादी सफेदा, मल्लिका, फजली, फजरी गोल, अम्बिका, अरु णिका, साहेब पसंद, एल्डन, कांवसाजी पटेल, बंगनपल्ली, माया, ओस्टीन, सुकुल, मछली और शहद कुप्पी सहित भारत में पाए जाने वाले आमों की लगभग 300 प्रजातियां प्रदर्शित की गई, लेकिन इन सबके बीच अपने आकार, रंग और खुशबू के चलते ‘मोदी’ आम छाया रहा और प्रदर्शनी में आए हर आम व खास के बीच आकषर्ण का केंद्र बना रहा।





महोत्सव में वीआईपी लोगों का जमावड़ा रहा। आयोजन के मुख्य अतिथि केंद्रीय मत्स्य, पशुपालन व डेयरी मंत्री पुरुषोत्तम रूपाला ने फीता काट कर मैंगो फेस्टिवल का उद्घाटन किया। केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने समारोह की अध्यक्षता की और केंद्रीय एमएसएमई मंत्री नारायण राणे, केंद्रीय भारी उद्योग मंत्री महेंद्र नाथ पांडे, जनजातीय मामलों के मंत्री अर्जुन मुंडा अतिविशिष्ट अतिथि के रूप में मौजूद थे। भारी उद्योग मंत्री महेंद्र नाथ पांडेय ने आम प्रदर्शनी के विजेता प्रतिभागियों को पुरस्कार प्रदान किए।


उपभोक्ता मामले खाद्य सार्वजनिक वितरण एवं ग्रामीण विकास राज्य मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति, संसदीय कार्य एवं संस्कृति राज्यमंत्री अर्जुन राम मेघवाल, विधि एवं न्याय राज्यमंत्री एसपी सिंह बघेल, रक्षा एवं पर्यटन राज्य मंत्री अजय भट्ट, शिक्षा राज्य मंत्री सुभाष सरकार, महिला एवं बाल विकास मंत्री डॉ. महेंद्र मुजपारा, शिपिंग एवं जहाजरानी राज्यमंत्री शांतनु ठाकुर, अल्पसंख्यक मामलों के राज्यमंत्री जॉन बराला, पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस, रोजगार व श्रम राज्य मंत्री रामेश्वरम तेली ने विशिष्ट अतिथि के रूप में कार्यक्रम की शोभा बढ़ाई। इसके साथ ही पूर्व मंत्री प्रताप सारंगी, सुदर्शन भगत, मोहनभाई कुंदारिया, पीपी चौधरी, शिव प्रताप शुक्ल, संतोष गंगवार, रतनलाल कटारिया, सत्यपाल सिंह, डॉ. हषर्वर्धन, डॉ. महेश शर्मा, प्रकाश जावडेकर और शशि थरूर, सांसद साध्वी प्रज्ञा, दिनेश लाल यादव निरुहुआ, अरुण सिंह, बृजलाल, नरेश बंसल और संघ के पदाधिकारियों में संजय मिश्रा, बालमुकुंद सिंह, सहित के देश लगभग सभी क्षेत्रों के 150 सांसदों ने महोत्सव में आमों का स्वाद चखा। महोत्सव में संगीत व नृत्य की शास्त्रीय प्रस्तुतियों व राधा-कृष्ण के संगीतमय मंचन से कलाकारों ने लोगों का मन मोह लिया।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ